Saturday , 28 November 2020

सुदर्शन स्मृति संग्रहालय

केंद्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता कलराज मिश्र ने कहा कि वैकुंठवासी स्वामी सुदर्शनाचार्य महान देवत्व के धनी थे। जिनको मानने वाले करोड़ों की संख्या में मौजूद हैं। उनके काम को स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य बेहतर तरीके से आगे बढ़ा रहे हैं। मिश्र यहां श्री सिद्धदाता आश्रम श्री लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम में वैकुंठवासी स्वामी की याद में निर्मित सुदर्शन स्मृति संग्रहालय का लोकार्पण करने के मौके पर संबोधित कर रहे थे।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र ने सुदर्शन स्मृति का लोकार्पण करने से पहले वैकुंठवासी स्वामी सुदर्शनाचार्य महाराज की समाधि स्थल पर भी नमन किया। इस संग्रहायलय में स्वामी द्वारा उनके जीवन में प्रयोग की वस्तुएं एवं उनसे संबंधित चित्र, पुस्तकें आदि प्रदर्शित होंगी। जिनसे अनंत काल तक लोग प्रेरणा लेते रहेंगे। एक संक्षिप्त संबोधन में कलराज मिश्र ने कहा कि जिस स्थान पर सिद्धदाता आश्रम स्थित है, यह स्थान हर युग में देवत्व गुणों से आच्छादित रहा है और वैकुंठवासी स्वामी देवत्व के विशेष गुणों को धारण करने वाले थे। यही कारण है कि उन्होंने अपने शारीरिक जीवन और इसके बाद भी करोड़ों भक्तों का कल्याण किया और इसके लिए एक दिव्यधाम की स्थापना भी की। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता की बात है कि इस काम को अब श्रीमद् जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य महाराज बखूबी निभा रहे हैं और दिव्यधाम की शाखाएं दुनिया के कोने कोने में पहुंच रही हैं।
इस अवसर पर विशिष्टि अतिथि एवं केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि उनके लिए बड़े गर्व की बात है कि उनके जन्मस्थान गांव मेवला महाराजपुर की भूमि पर श्री सिद्धदाता आश्रम एवं श्री लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम स्थापित है। इस स्थान पर मन से जो भी मांगा गया वो लोगों को प्राप्त हुआ है, हो रहा है और होता रहेगा। ऐसा मेरा विश्वास है। उन्होंने फरीदाबाद आगमन पर कलराज मिश्र का स्वागत भी किया और आगे भी इस प्रकार प्रेम बनाए रखने का आग्रह भी किया।
इस मौके पर दिव्यधाम के अधिपति अनंत श्री विभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद् जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य महाराज ने अतिथियों, आगंतुकों एवं भक्त परिवारों को संग्रहालय की स्थापना अवसर पर पहुंचने पर बधाई एवं शुभकामनाएं दीं एवं कहा कि हम सब मिलकर बाबा के काम को और ऊंचाई देने के लिए निरंतरता से कार्य करेंगे। इस अवसर पर पूजनीय गुरुमाता, स्वामी मधुसूदनाचार्य एवं स्थानीय विधायक सीमा त्रिखा विशेष रूप से मौजूद रहे।

Check Also

राज्यपाल की संवेदना

राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने देश के ख्यातिनाम मूर्तिकार, पदमश्री श्री अर्जुन प्रजापति के आकस्मिक …

2 comments

  1. Bieswf vtclgf 5 mg cialis tadalafil 20 mg buy cialis online pharmacy tawdry auspices of email at Least Edge??s integrity diagnosis recognize.

  2. To salutations your dominating iscariot bond cialis generic online from canada bjdmjs internet cialis best place to buy cialis online reviews

Leave a Reply

Your email address will not be published.


6 − one =