Thursday , 24 September 2020

प्रतिदिन मरीजों की बढ़ती संख्या से चिंतित है राज्यपाल

राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने कहा है कि ‘प्रदेश में कोरोना के लगातार होते विस्तार और प्रतिदिन मरीजों की बढ़ती संख्या के प्रति मुझे गहरी चिंता है। कोरोना वैश्विक महामारी का यह विषय अत्यंत चिन्ताजनक है। मैं कोरोना के बारे में राज्य सरकार और मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत से लगातार चर्चा कर रहा हूं।’
राज्यपाल श्री मिश्र ने कहा कि  ‘कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव ही इसका इलाज है। हम लोगों को इस बीमारी से बचने के लिए सावधानियां बरतनी होगी। सभी दिशानिर्देशों का हमें पालन करना होगा। यह हमारे स्वयं के लिए तो जरूरी है ही साथ ही इससे हमारा घर, परिवार, समाज, प्रदेश और देश भी तब ही सुरक्षित रह सकेगा। कोरोना का प्रचंड प्रकोप जारी है। मंगलवार को प्रदेश में रिकाॅर्ड 1217 नए रोगी मिले है। वहीं 11 मौते भी हुई है। अब राजस्थान में कुल रोगियों की संख्या 54,887 और मौतें 811 तक पहुंच गई हैं।’
राज्यपाल श्री मिश्र ने कहा कि ‘आप सब जानते हैं, यह समय कोरोना वैश्विक महामारी से लडने का हैं। हमारी अपनी सुरक्षा अपने हाथों में है। सभी को मास्क पहनना अनिवार्य है। यदि मास्क नही हो तो गमछा, दुपटटा या रूमाल से अपने नाक और मुंह को ढक कर रखें। सामाजिक दूरी बनाये रखना आवश्यक है। सेनेटाइजर का उपयोग करें। साफ.सफाई का पूरा ध्यान रखें।’
उन्होंने कहा कि ‘प्लाज्मा थैरेपी, कोरोना का एक प्रभावी उपचार हैं। प्लाज्मा उसी व्यक्ति का लिया जाता है, जो इस बीमारी से जंग जीतकर ठीक हुआ है। वर्तमान में प्रदेश के लगभग 27 हजार व्यक्ति इस बीमारी से संक्रमित होने के बाद ठीक हो चुके है। कोरोना पर विजय पाये उन सभी व्यक्तियों का मैं आव्हान करता हूं कि आगे आयें, अपना प्लाज्मा, रक्तदान के माध्यम सेए दान दें, ताकि कोविड़ से ग्रसित गम्भीर मरीजों को प्लाज्मा थैरेपी से जीवनदान मिल सके।’
राज्यपाल श्री मिश्र ने कहा कि ‘राज्य के सभी नागरिक जिन्होंने अपनी.अपनी सुविधानुसार इस महामारी से बचने के लिए प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष सहयोग किया है, उनसे फिर आग्र्रह है कि उनके आसपास जो भी मरीज ठीक हुये है, उन्हें प्लाज्मा दान करने के लिए प्रेरित करें। कोरोना महामारी से शीघ्र मुक्ति प्राप्त करने मे सहयोग करें। ‘
राज्यपाल ने कहा है कि ‘मैं अनुरोध करता हूं कि कोविड.19 से ठीक हुए अधिक से अधिक व्यक्ति प्लाज्मा दान करें। साथ ही साथ दूरी बनायें रखेए मास्क का उपयोग करें एवं हाथों को सेनेटाइज करते रहें। ‘
राज्यपाल श्री मिश्र ने कहा कि ‘लोगों को कोरोना से बचाव के लिए बरती जाने वाली सावधानियों को अपने जीवन की दिनचर्या में आवश्यक रूप से जोड़ना होगा। इस वैश्विक महामारी से बचने के लिए बचाव के उपायों को अपनाना ही होगा। बचाव के उपायों में लापरवाही किया जाना ठीक नही है। कोरोना से निपटने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा प्रभावी निर्देश जारी किये गये हैं। प्रदेश में पचास हजार लोगों से ज्यादा कोरोना से संक्रमित होना चिंता की बात है। प्रति दिन एक्टिव केस बढ़ रहे हैं। इन सब हालातों को दखते हुए हम सभी को एक जुट होकर संघर्ष करना है। ‘
राज्यपाल ने कहा कि ‘इस समय आप लोगों को अपने कर्तव्यों का पालन करना हैं। त्याग करना हैए धीरज रखना है, संयम रखना है और लोगों की मदद करनी है। यह परीक्षा की घडी है। घबराये नहीं। केन्द्र और राज्य सरकार को प्रदेशवासियों की चिन्ता है। सरकार आवश्व्ययक व्यवस्था और प्रबन्ध कर रही है। आप सभी को ज्ञात है कि प्रशासन और पुलिस के साथ चिकित्सा और स्वास्थ्यकर्मी मेहनत और निष्ठा से अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे है। प्रदेशवासियों को इन सभी का सहयोग करना चाहिए ताकि हम इस संकट के दौर से निकल सके और हमारा जीवन फिर से नियमित हो सके।

Check Also

राज्यपाल ने गहरा दुःख व्यक्त किया

राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने कोटा के खातोली में हुई नाव दुर्घटना को बेहद दुखद …