Wednesday , 1 December 2021

राज्यपाल को स्वातंत्र्य समर के अमर बलिदानी पुस्तक की प्रथम प्रति भेंट

राज्यपाल श्री कलराज मिश्र को आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर श्री पवन कुमार द्वारा लिखित पुस्तक स्वातंत्र्य समर के अमर बलिदानी की प्रथम प्रति सोमवार को यहाँ राजभवन में भेंट की गई।

राज्यपाल श्री मिश्र ने इस मौके पर कहा कि स्वतंत्रता संघर्ष में अहिंसात्मक आंदोलन के साथ- साथ क्रांतिकारियों का प्रबल प्रवाह था। छोटे- छोटे दलों में सक्रिय क्रांतिकारियों ने आजादी की अलख जगाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। इन सभी प्रयासों के फलस्वरूप देश को स्वतंत्रता मिली। उन्होंने आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर क्रांतिकारियों के जीवन और बलिदान के बारे में जानकारी देने वाली इस पहल की सराहना की।

इस अवसर पर सांसद श्री रामचरण बोहरा, श्रीमती जसकौर मीणा, जनरल (रिटा.) श्री विशम्भर सिंह, भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री श्री चन्द्रशेखर सहित प्रबुद्धजन उपस्थित रहे।

Check Also

संविधान की मूल प्रति में भारतीय संस्कृति का चित्रण भावी पीढ़ी के लिए प्रेरणादायक

मूल अधिकार और कर्तव्यों में संतुलन से ही राष्ट्रहित और नैतिक मूल्यों की सही पालना …